Page Nav

HIDE

Classic Header

Top Ad

Breaking News:

latest

कार लूट मामले का खुलासा, लूट की कार खरीददार सहित चार आरोपी गिरफ्तार

आरोपियों ने कार लूटने के बाद पच्चास हजार रूपये में संविदाकर्मी को दी थी बेच, लूटी हुई कार वारदात में प्रयुक्त चकू, टैप व रस्सी बरामद बाप न्य...



आरोपियों ने कार लूटने के बाद पच्चास हजार रूपये में संविदाकर्मी को दी थी बेच, लूटी हुई कार
वारदात में प्रयुक्त चकू, टैप व रस्सी बरामद

बाप न्यूज़ |  बाप क्षेत्र के मंडोर के पास 3 अप्रैल को हुई कार लूट मामले का बाप पुलिस ने खुलासा करते हुए चार आरेापियों को गिरफ्तार किया है। लूट में शामिल तीनो आरोपी शातिर बदमाश है। पकड़े गए आरोपियों में लूट की कार खरीददार भी शामिल है। आरोपियों ने महज पच्चास हजार में कार एम्स में कार्यरत एक संविदाकर्मी को बेच दी थी। पुलिस ने लूटी गई कार सहित वारदात में प्रयुक्त चाकू, टैप व रस्सी बरामद कर ली है। आरोपियो से पुलिस ने जिले में अलग अलग जगहों पर की तीन अन्य वारदातों काभी खुलासा किया है। 

जिला पुलिस अधीक्षक जोधपुर ( ग्रामीण) अनिल कयाल ने उक्त कार लूट प्रकरण की घटना को गम्भीरता से लेते हुए थानाधिकारी बाप को अज्ञात लुटरों का पता कर अतिशीघ्र लूट की वारदात का खुलासा करने के निर्देश दिये थे। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक फलोदी दीपक कुमार शर्मा व वृताधिकारी वृत फलौदी पारस सोनी के निकट सुपरविजन में थानाधिकारी हरिसिह राजपुरोहित मय टीम ने मुखबीरी व तकनीकी स्त्रोत के आधार पर गहनता से घटना के हर पहलू की जांच की। जांच में पता चला कि अज्ञात संदिग्ध लूटेरे दिल्ली में है। जिस पर थानाधिकारी बाप मय टीम दिल्ली के लिए रवाना हो गई। लेकिन दिल्ली पहुंचने से पूर्व ही पता चला कि आरोपी जयपुर की तरफ आ रहे है। पुलिस टीम ने जयपुर पहुंच कर दिल्ली से जयपुर आने व आगे जाने वाली बसो को चैक किया। वंहा सम्भावित स्थानों, सराय, होटलों में दबिशे दी। एक होटल से पुलिस ने तीनों आरेापी प्रदीप पुत्र महीपाल जाति विशनोई निवासी पश्चिम ढाणियां मानेवडा पुलिस थाना भोजासर, राकेश पुत्र जगदीशराम जाति विशनोई निवासी मानेवडा पुलिस थाना भोजासर तथा प्रकाश पुत्र बाबूलाल जाति जाट निवासी भैसेर काटवाली पुलिस थाना मथानियां दस्तयाब कर लिया। पूछताछ में तीनो ने कार लूट की वारदात करना स्वीकार कर लिया। 

50 हजार में बेच दी कार, पुलिस ने की कार बरामद जयपुर में फिर कार लूटने की फिराक में थे आरोपी 

पूछताछ में सामने आया कि आरोपियो ने कार लूटने के बाद उसे भरत पुत्र जीयाराम जाति जाट पेशा संविदाकर्मी एम्स अस्प्ताल जोधपुर निवासी गोपासरिया (ओसिंया) हाल सारण नगर जोधपुर को बेच दी। पुलिस ने चोरी की कार खरीदने पर भरत को गिरफ्तार कर लूटी हुई स्वीफ्ट कार उससे बरामद कर ली। थानाधिकारी राजपुरोहित ने बताया कि घटना के बाद आरोपियों ने मोबाइल बंद कर दिये थे। वे दिल्ली में चोर बाजार से एप्पल के नये फाेन खरीदने गए थे। दिल्ली से जयपुर आकर वे फिर किसी कार को किराये पर लेकर लूटने की फिराक में थे। पुलिस ने आरोपियों से लूट करने में प्रयुक्त चाकू, चिपकाने वाली टैप व हाथ पैर बांधने के लिए उपयोग में लाई जाने वाली रस्सी भी बरामद की है। पुलिस ने आरोपियों को न्यायायल में पेश कर रिमांड पर लिया है। कार्यवाही टीम में बाप थानाधिकारी हरिसिह राजपुरोहित, हैंड कांस्टेबल सुरेन्द्र कुमार, कांस्टेबल महीपाल, कमलेश, रामस्वरूप, मूलाराम, ओमप्रकाश, श्रीचन्द, राजूसिंह, भगवानाराम, तकनीकी सहयोग हैड कांस्टेबल श्रवणराम (डीसीआरबी) शामिल थे। 

यह था मामला  

सुधीर देतवाल पुत्र रतनलाल जाति रेगर पेशा ड्राइविंग निवासी इंद्रा कॉलोनी श्रीनगर (अजमेर) ने 3 अप्रैल को बाप थाने में मामला दर्ज कर बताया था कि अजमेर में 02 अप्रैल की शाम अपनी स्वीफ्ट कार के साथ टैक्सी स्टेण्ड पुरानी आीपीएससी के सामने बैठा था। उस दौरान तीन लड़के उसके पास आये व फलोदी छोड़ने कहा। तीनो ने उसकी कार पांच हजार रूपये में तय की। फलोदी आते समय बीच रास्ते में कस्बा आऊ के पास से सिंगल रोड पर 10 किमी चलने पर तीनो ने उसकी गर्दन पर चाकू रखा। इसके बाद उसके हाथ पैर बांध व मुंह पर टैप चिपका कर कार के पिछे वाली सीट पर डाल दिया।  बाप क्षेत्र में मण्डोर के पास उसे पटक दिया तथा उसकी मोबाइल की सीम व कार लेकर भाग गए।  मामला दर्ज करने के बाद थानाधिकारी हरिसिंह राजपुरोहित मय टीम ने अज्ञात लुटेरों की तलाश शुरू की गई।  

इन वारदातों का भी हुआ खुलासा 

:- 23 मार्च 2021 को किरमसरिया टोल नाका (मथानियां) के पास एक आरेापी ने लड़की बनकर एक व्यक्ति को बुलाया। फिर उससे बुलेट व मोेबाईल लूटकर ले गए। 

  • 18 मार्च 2021 को कुडी सेक्टर नम्बर 07 जोधपुर से एक मोटरसाईकिल स्प्लेंडर चोरी करना स्वीकार किया। 
  • पूना में बालाजी फूड ट्रेडर्स से करीब एक लाख की चोरी करना स्वीकार किया।

No comments