Page Nav

HIDE

Classic Header

Top Ad

Breaking News:

latest

वीर चक्र विजेता मंगलसिंह सिसोदिया का निधन, सैन्य सम्मान से दी अंतिम विदाई

Bap New s:  फलोदी उपखंड क्षेत्र की निकटवर्ती पंचायत समिति मुख्यालय बापिणी के निम्बों का तालाब गांव में रविवार को वीर चक्र विजेता ग्रेनेडियर ...

Bap News: फलोदी उपखंड क्षेत्र की निकटवर्ती पंचायत समिति मुख्यालय बापिणी के निम्बों का तालाब गांव में रविवार को वीर चक्र विजेता ग्रेनेडियर मंगलसिंह जी सिसोदिया(80)का निधन हो गया। 

पैतृक गांव में रविवार को उनका सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। इस अवसर पर राज्य सरकार तथा जिला कलक्टर जोधपुर के प्रतिनिधि के तौर पर लोहावट उप जिला कलक्टर यशपाल आहुजा तथा बापिणी तहसीलदार उस्मान खां ने सिसोदिया की पार्थिव देह पर पुष्प चक्र अर्पित कर वीर चक्र विजेता को नमन किया। इस दौरान जोधपुर से आये सैन्य प्रतिनिधि कमाडिंग ऑफिसर धीरेंद्र सिंह, सैनिक कल्याण बोर्ड जोधपुर के प्रतिनिधि नारायणराम, नायब सूबेदार ओमाराम, विरेंद्र प्रतापसिंह सिसोदिया, राजूसिंह, मनोहर सिंह सहित अन्य कई गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे। 



वर्ष 1971में भारत-पाक युद्ध में अदम्य साहस एवं वीरता प्रदर्शन के लिये भारत सरकार द्वारा मंगलसिंह जी सिसोदिया को वीर चक्र से सम्मानित किया गया था। भारत-पाक युद्ध के दौरान राजस्थान से लगी पाक सीमा पर 6 दिसंबर 1971को शत्रु के खिलाफ हमलावर भारतीय सेना की टुकड़ी में शामिल ग्रेनेडियर मंगलसिंह सिसोदिया दुश्मन दल द्वारा की जा रही घमासान गोलाबारी के बीच अपने प्राणों की परवाह किये बिना हाथ में बंदूक लेकर आगे आये और निडरता के साथ मोर्चा संभाला। इस युद्ध में गंभीर रूप से घायल हो जाने के बाद भी वे अपने अदम्य साहस और असाधारण उच्च कोटि की शूरवीरता का परिचय देते हुये रेंगते हुये लगातार गोलीबारी करते रहे और दुश्मनों को उलझाये रखा।  वे तब तक मोर्चे पर डटे रहे जब तक उनका शरीर असंख्य गहरे घावों से लहूलुहान हो निस्तेज न हो गया।



रण भूमि में शत्रु के सम्मुख दिखाये गये असाधारण शौर्य और विशिष्ट पराक्रम के लिए भारत के राष्ट्रपति द्वारा गणतंत्र दिवस 26 जनवरी 1972 को ग्रेनेडियर मंगल सिंह सिसोदिया को युद्ध भूमि में उच्च कोटि की वीरता और साहस के लिये दिये जाने वाले तीसरे सर्वोच्च शौर्य अलंकरण वीर चक्र से सम्मानित किया। 

वीर चक्र विजेता मंगलसिंह सिसोदिया के निधन पर भाजपा जिलाध्यक्ष मनोहरलाल पालीवाल छीला, कांग्रेस नेता कुभंसिंह पातावत, भाजपा नेता विक्रमादित्य आमला, गिरधर सिंह जालोड़ा,  माधुसिंह देवड़ा, सुगनसिंह ननेऊ, जितेंद्र सिंह खेतूसर, जिला प्रतिनिधि रतन मेघवाल,भाजयुमो नेता तरूण शर्मा, आमसिंह आमला, विरेंद्र सिंह खेतूसर आदि ने गहरा दुख व्यक्त किया है। भाजपा युवा नेता विरेंद्र प्रतापसिंह सिसोदिया ने बताया कि वीर चक्र विजेता स्वर्गीय सिसोदिया के परिवार में दो पुत्र एवं दो पुत्रियों सहित भरा-पूरा परिवार है। सिसोदिया के निधन से मांगलियावटी सहित अन्य क्षेत्रों में शोक की लहर छा गई।

फलोदी से अशोक कुमार मेघवाल की रिपोर्ट





No comments