Page Nav

HIDE

Classic Header

Top Ad

Breaking News:

latest

कोरोना महामारी में मानव तथा गौसेवा को समर्पित भामाशाह बूड़िया

सामग्री सौंपते भामाशाह बू्ड़िया 

सामग्री सौंपते भामाशाह बू्ड़िया 
बाप न्यूज : अशोक कुमार मेघवाल | मुश्किल समय में मानव सेवा के लिये आगे बढकर सहयोग करने वाला ही भामाशाह कहलाते है जिनको इतिहास में सदैव याद रखा जाता है। अपना मारवाड़ भी दान, धर्म एवं मानव सेवा के लिये अपनी विशेष पहचान रखता है। जब -जब विपत्ति काल आता है तब प्रशासन एवं सरकार की आवाज पर बड़ी संख्या में भामाशाह आगे आकर हर संभव सहयोग करते है। पिछले एक साल से देश में कोरोना महामारी का दौर चल रहा है। इस मुश्किल घड़ी में सरकार एवं आमजन का सहयोग करने के लिये क्षेत्र के भामाशाहों ने बड़ी धनराशि आवश्यक सेवाओं तथा आमजन को जरूरत पड़ने पर उपलब्ध करवाई है। पिछले साल मार्च में क्षेत्र से पलायन कर रहे मजदूरों के लिये भोजन आदि की व्यवस्था के लिए यहां के भामाशाहों ने हरसंभव सहयोग किया। 

सरकारी अस्पतालों में विभिन्न संसाधनों सहित ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिये क्षेत्र के भामाशाह बड़ी संख्या में आगे आ रहे है। जोधपुर जिले के गुडा विश्नोइयान गांव निवासी ठेकेदार देवेंद्र बूड़िया इस कड़ी में पिछले एक साल से आम जन की सेवा में अपना सहयोग दे रहे है। एए क्लास ठेकेदार एवं अखिल भारतीय बिश्नोई महासभा के राष्ट्रीय वरिष्ठ उपाध्यक्ष देवेंद्र बूड़िया ने बताया कि यह कठिनाई का दौर है। जिसमें वह भी अपना थोड़ा सा सहयोग कर रहे है। उन्होंने बताया कि लोगों को चिकित्सा सेवा के लिये आगे बढ़कर सहयोग करना चाहिये। सभी लोगों के थोड़े-थोड़े सहयोग से कई मुश्किलें आसानी से हल हो जायेगी। 

जन सेवा के साथ-साथ गौसेवा 

देवेंद्र बूड़िया

बूड़िया ने एक साल में लगभग डेढ़ करोड़ की राशि जन सेवा के लिये समर्पित की है। उन्होंने मुख्यमंत्री सहायता कोष में 25 लाख 51 हजार, गुड़ा खेजड़ली गांव में 650 जरूरत मंद परिवारों को सामग्री किट के लिये नकद राशि दी तथा गंगापुर, बूंदी, सीकर, सांगोद, टोंक मे सामग्री बांटी। साथ ही जांबा गौशाला में 30 लाख से टीन सेड निर्माण के साथ ही 20 लाख का वार्षिक सहयोग भी देते है। जोधपुर जिला कलक्टर ने सभी जोधपुरवासियों से इस मुश्किल हालात में सहयोग के लिये आगे आने की अपील की थी। 

जिसके तहत देवेंद्र कंस्ट्रक्शन कंपनी के देवेंद्र बूड़िया, आशापूर्णा ग्रुप एवं मगमोहन चैरिटेबल ट्रस्ट के करणसिंह उचियारड़ा, समाज सेवी एवं पूर्व उप जिला प्रमुख हीरालाल मुंडेल एवं राणाराम नैण के सहयोग से 560 किलो प्रतिदिन क्षमता का ऑक्सीजन प्लांट लगाया जायेगा जिसमें 80 सिलेंडर की क्षमता है, इस प्लांट की लागत 40 लाख रूपये है। जल्द ही यह प्लांट  सरकारी हॉस्पिटल में इंस्टाल किया जायेगा। वर्तमान समय में जोधपुर में भारी ऑक्सीजन कि कमी को देखते हुये देवेंद्र कंस्ट्रक्शन कंपनी ने सोमवार को 200 हाई कॉन्सेंट्रेशन मास्क  एडीएम जोधपुर को दिये है। इनके उपयोग करने से 65 प्रतिशत ऑक्सीजन की बचत होगी जो कि दूसरे अन्य मरीजों के लिये उपयोगी साबित होगी।


No comments