Page Nav

HIDE

Classic Header

Top Ad

Breaking News:

latest

कोमल है, पर कमजोर नहीं.... अंतराष्ट्रीय महिला दिवस पर महिलाओं ने किया मंच साझा

कानसिंह की सिड में पहली बार महिला दिवस का आयोजन  बाप न्यूज़ | अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर  सहज संस्थान द्वारा वीमनसर्व  के सहयोग से क...



कानसिंह की सिड में पहली बार महिला दिवस का आयोजन 

बाप न्यूज़ | अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर  सहज संस्थान द्वारा वीमनसर्व  के सहयोग से कानसिंह की सिड में पहली बार स्वयं सहायता समूह की महिलाओ, सरकारी विभागों की महिलाओं, बालिकाओ की उपस्थिति में महिलाओ के अनुभव और विचारों को साझा करने के लिए सम्मेलन का आयोजन किया गया।

आयोजन में ख़िदरत, कानसिंह की सिड, किशनेरी, नया गांव, सोढ़ादड़ा व बाप सहित कई गांवो की लगभग 200 महिलाओ ने भाग लिया। इस अवसर पर उप सरपंच कमला देवी, सुआ देवी, छोटा देवी, किरण कंवर, बाप पंचायत की पूर्व सरपंच पूनम पालीवाल, प्रिंसिपल प्रतिभा सामोर, प्रीति राठौर ने मंच साझा किया। 

विशिष्ट अतिथि के रूप में जिला उद्योग केंद्र की महाप्रबंधक अंजुला आसदेव, वायुसेना स्टेशन फलौदी से फ्लाइट लेफ्टीनेंट सुश्रीपायल, कानसिंह की सिड की सरपंच श्रीमती विमल कंवर, सोढादड़ा सरपंच श्रीमती शांति देवी शामिल हुई।

कार्यक्रम की शुरुआत अथितियों द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर की गई। उसके बाद सहज वीमनसर्व टीम ने 'कोमल है कमजोर नहीं' ...गीत प्रस्तुत किया। जय सियाराम समूह की पप्पू देवी ने अपने अनुभव साझा कर समूह के कार्यो के बारे बताया। उसके बाद बालिकाओ ने अपना गीत प्रस्तुत किया। कानसिंह की सिड की सुशीला देवी ने अपने अनुभव साझा करते हुए संगठित रहने और मिलकर काम करने की बात कही। साथ ही कहा कि समूह हमारा मायका है। जिससे हम अपने और अपनी बेटियों के सपने पूरे कर सकते है। हमे अपनी बेटियों को आईपीएस और आईएएस बनाना है।
सुशीला ने अधिक से अधिक समूह से जुड़ महिलाओ को आगे बढ़ने का संदेश दिया। समूह की तीजो देवी, किरण कंवर ने भी अपने अनुभव साझा किए। उसके बाद फ्लाइट लेफ्टीनेंट सुश्री पायल ने महिलाओं को शिक्षा के माध्यम से आगे बढ़कर अपने सपनो को अपने नाम से साकार करने के लिए प्रोत्साहित किया। जिला उद्योग केद्र की महाप्रबंधक अंजुला आसदेव ने अपने शिक्षा से आगे बढ़ने के अनुभव साझा किए और आरएएस बनने के बारे में भी बताया। उन्होंने जिला उद्योग केंद्र की योजनाओं के बारे में विस्तार से बताया और महिलाओं के आर्टिजन कार्ड भी वितरित किये। प्रिंसिपल प्रतिभा सामोर ने बालिका छात्रावास की योजना के बारे जानकारी दी। बाप की पिंकी सिंह ने भी महिलाओ पर अपनी कविता साझा की। पूर्व सरपंच पूनम पालीवाल, महावीर इंटरनेशनल के अध्यक्ष मधुकर मोखा, अध्यापिका अंजुबाला सहित बालिकाओ ने महिला सशक्तिकरण पर अपने विचार साझा किए। ओपन स्टेट पर दूसरा दशक की प्रीति जी ने महिलाओं का प्रोत्साहन किया और उनके साथ आई बालिकाओ ने भी पढ़ाई छोड़ चुकी बालिकाओ को ओपन स्टेट से जुड़ पढ़ाई जारी रखने के बारे में कहा। मंच का संचालन अंजू और भोमराज सुथार ने किया। अंत मे सभी अथितियों का कार्यक्रम प्रबंधक सुरेश जी और सरपंच द्वारा शील्ड देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम के सफल आयोजन में दुर्गा, मनु, शारदा, अंजू, मोहम्मद यासीन, भंवर शर्मा, संगीता, गीता आदि ने सहयोग किया।

No comments