Page Nav

HIDE

Classic Header

Top Ad

Breaking News:

latest

ADVT

भाजपा जिलाध्यक्ष पालीवाल ने किया ग्रामीण क्षेत्र का दौरा

Bap News : अशोक कुमार मेघवाल, फलोदी भारतीय जनता पार्टी जोधपुर देहात उत्तर जिला के जिलाध्यक्ष मनोहरलाल पालीवाल ने आज शेखासर, बारू, राणेरी, धो...

Bap News : अशोक कुमार मेघवाल, फलोदी

भारतीय जनता पार्टी जोधपुर देहात उत्तर जिला के जिलाध्यक्ष मनोहरलाल पालीवाल ने आज शेखासर, बारू, राणेरी, धोलिया, सावरा गांव का दौरा किया तथा किसान चौपालों का आयोजन किया गया।


 इस दौरान कृषि सुधार विधेयक- 2020 को लेकर कृषि सुधार कानूनों के बारें में किसानों को विस्तृत जानकारी दी गई। मीडिया प्रभारी सुनिल बुरड़ ने बताया कि इन विधेयकों से किसानों को होने वाले फायदे गिनाये गये और किसानों से सुझाव भी लिये गये तथा कहा कि कृषि विधेयक कानूनो के लागू होने से कुछ राजनीतिक दलों के बड़े नेताओं की दुकानें बन्द हो जायेगी इसलिये उनको तकलीफ हो रही है,जबकि किसानों को इस कृषि विधेयक कानून से कोई नुकसान नही होगा। पालीवाल ने कहा कि आज कांग्रेस पार्टी सहित कुछ विपक्षी दल भोले-भाले किसानों को भड़काकर विरोध कर रहे है। जबकि इसी कांग्रेस पार्टी ने किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए मनमोहन सिंह के प्रधानमंत्रित्व काल में प्रोफेसर एमएस स्वामीनाथन की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित की थी उस कमेटी ने भारत में कृषि सुधार और किसानों की आर्थिक स्थिति को बेहतर बनाने के लिए 2006 में 102 सुझाव केन्द्र सरकार को दिये थे, लेकिन बिचौलियों के दबाव के चलते कांग्रेस पार्टी की सरकार जो 2014 तक केन्द्र में रही  उन सुझावों को लागू नहीं कर पाई अब किसान इनके बहकावे में नहीं आने वाले है। कांग्रेस पार्टी ने खुद लोकसभा चुनाव 2014 के अपने चुनाव घोषणा पत्र में इन कानूनों को लागू करने की बात कही थी। पंजाब में जहां कांग्रेस की सरकार है वहां पर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने खुद मंडी व्यवस्था को समाप्त करने की बात कही थी और अब यही लोग इन कानूनों का विरोध कर रहे हैं। जबकि केन्द्र की भाजपा सरकार मोदी  के नेतृत्व में किसानों के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। किसान चौपाल में भाजपा जिला उपाध्यक्ष सुखराम, जिला मंत्री शिवकुमार व्यास,बाप मंडल अध्यक्ष हरी माडपुरा,महामंत्री अजीतसिंह,पूर्व मंडल अध्यक्ष नरपत सिंह, श्याम काछबाणी,हनुमान अमराणी,मदन विश्नोई,मुकेश महाराज आदि उपस्थित रहे। 

No comments