Page Nav

HIDE

Classic Header

Top Ad

Breaking News:

latest

ADVT

होम आइसोलेट 42 संक्रमितों का किया स्वास्थ्य परीक्षण

Bap New s:  बाप ब्लाॅक में होम आइसोलेट कोनोरा संक्रमितों का रविवार को मेडिकल टीम का द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। मेडिकल टीम के साथ ब...

Bap News: बाप ब्लाॅक में होम आइसोलेट कोनोरा संक्रमितों का रविवार को मेडिकल टीम का द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। मेडिकल टीम के साथ बीसीएमओ डॉ. दाऊलाल चौहान भी थे। उन्होने बताया कि बाप उपखण्ड में कुल 50 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव आ चुके है। जिसमे से अभी 42 केस होम आइसोलेट है। मेडिकल टीम द्वारा केलनसर, प्रधान जी की ढाणी, चिमाना, चाखू में गणेशनगर, जाम्बा में जाम्बा की ढाणी में होम आइसोलेट कोरोना पॉजिटिव की होम विजिट कर स्वास्थ्य परिक्षण किया गया। साथ ही यह भी देखा गया गया कि संक्रमित होम आइसोलेशन नियमों की पालना कर रहे है या नहीं। उन्होने कोविड – 19 नियमों की पालना के बारे में जानकारी देते हुए सभी को मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंस की पालना और बार बार साबुन से हाथ धोना या सैनेटाइजर करने को कहा। मेडिकल टीम में बीसीमओ डॉ दाऊलाल चौहान, डॉ ओमप्रकाश बिश्नोई पीएचसी जांबा, डॉ रामनिवास विश्नोई सीएचसी केलनसर, डॉ दौलत सिंह पीएचसी चाखू, डॉ. शेर मोहम्मद, मेलनर्स द्वितीय ओमप्रकाश खोजा शामिल थे। 

संक्रमित मरीज को होटल से घर में लाकर आइसोलेट करने और ग्रामीणों ने किया हंगामा
कस्बे मे नोख रोड पर गेधरों के मौहल्लो में रविवार सुबह ग्रामीणों ने जबरदस्त हंगामा गया। ग्रामीणों का आरोप है कि प्रशासन ने एक निजी होटल प्रबंधन से मिली भगत कर कोरोना पॉजिटिव मरीज को होटल में रखने के बजाय अचानक गेधरों के माैहल्ले में शिफ्ट कर दिया है। ग्रामीणों द्वारा किए गए हंगामें की सूचना के बाद तहसीलदार हुकमींचद, थानाधिकारी हरिसिंह राजपुरेाहित तथा बीसीएमओ डॉ. दाऊलाल चौहान वंहा पहुंचे। अधिकारियेां को ग्रामीणों ने बताया कि केरला से आया व्यक्ति 18 जुलाई से होटल में ही रहा रहा था। 22 को जांच कराने के बाद 25 को वह संक्रमित पाया गया। होटल बंद नहीं हो इस पर उसे मौहल्ले में लाकर एक घर में शिफ्ट कर दिया। ग्रामीणों ने कहा कि प्रशासन की लापरवाही से उनका मोहल्ला भी संक्रमित हो जाएगा। तहसीलदार तंवर ने ग्रामीणों से कहा कि उसने यंहा किराये का मकान ले रखा है। होम हाइसोलेट का वह नियमो का पालना करेगा। उसके आवास के चारो ओर बेरिकेट्स लगा दिए है। ग्रामीणों के प्रदर्शन के बाद भी प्रशासन ने उनकी नहीं सुनी।

No comments