Page Nav

HIDE

Classic Header

Top Ad

Breaking News:

latest

ADVT

कोरोना योद्धा के रूप में उभरे फलोदी के हेमन्त

Bap News:  वैश्विक महामारी कोरोना से दुनिया भर में चिंता व दहशत का वातावरण बना हुआ है। संक्रमण का नाम सुनते ही आमजन में भय की सिहरन उठती ...


Bap News: वैश्विक महामारी कोरोना से दुनिया भर में चिंता व दहशत का वातावरण बना हुआ है। संक्रमण का नाम सुनते ही आमजन में भय की सिहरन उठती है। इस बीच पुलिस तथा  चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग पुरी मुस्तैदी के साथ संक्रमण को बढ़ने से रोकने व इस पर नियंत्रण पाने में जुटा हुआ है। 
कैप्शन जोड़ें

समूचे जोधपुर सम्भाग में फलोदी के सपूत स्व. लालचंद  चाण्डा के पौत्र हेमंत पुत्र एपी चाण्डा  जोधपुर की डॉ एस.एन. मेडिकल कॉलेज की वायरल रिसर्च एवं डायग्नोस्टिक लेबोरेटरी (VRDL) प्रयोगशाला में रिसर्च सहायक अधिकारी के रूप में कोरोना मरीजों की जाँच करने में कोरोना महायुद्ध में एक योद्धा के रुप मे उभरे हैं। आज फलोदी पुष्करणा समाज ही नही बल्कि फलोदी का हर समाज स्वयं को गौरवान्वित होने का अनुभव महसूस कर रहा है। हेमंत सुबह से शाम तक लगातार  मुख्य पीसीआर मशीन से कोरोना बीमारी की जांच करने के मैदान में योद्धाओं की तरह जुटा हुआ है। फलोदी के लिए गर्व की बात है।





   (रामावतार बोहरा फलोदी, की रिपोर्ट)





कोरोना की राजस्थान हाईकोर्ट में दस्तक 
न्यायाधीश का रीडर निकला पॉजिटिव

जोधपुर शहर में बढ़ता कोरोना का ग्राफ राजस्थान हाईकोर्ट भवन को भी छू गया है। हाईकोर्ट में एक न्यायाधीश का रीडर शुक्रवार सुबह एम्स की जांच रिपोर्ट में पॉजिटिव पाया गया है। इसके अलावा एक अन्य एम्स में पॉजिटिव निकला है। राजस्थान जोधपुर में आज सुबह मेडिकल कॉलेज की जांच रिपोर्ट में एक भी पॉजिटिव नहीं मिलने से मिली राहत थोड़ी देर के लिए ही रही। हाईकोर्ट के किसी कर्मचारी के कोरोना संक्रमित होने का यह पहला मामला है। बताया जा रहा है कि इस रीडर की कॉटेक्ट हिस्ट्री काफी बड़ी है। फिलहाल शास्त्री नगर स्थित इसके घर से परिजनों को अस्पताल ले जाया गया है।

एम्स से जारी मेडिकल बुलेटिन में दो जनों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया। इसमें से शास्त्री नगर सेक्टर एच निवासी एक व्यक्ति हाईकोर्ट में रीडर है। दो दिन पूर्व तबीयत खराब होने पर यह रीडर स्वयं की जांच कराने एम्स गया था। वहां उसे भर्ती कर सैंपल लिया गया। आज जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आते ही हाईकोर्ट के कर्मचारियों में खलबली मच गई। बताया जा रहा है कि हाईकोर्ट के कर्मचारी बड़ी संख्या में इस रीडर के संपर्क में रहे थे। अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि यह रीडर गत कुछ दिनों में अपने न्यायाधीश से मिला या नहीं। फिलहाल चिकित्सा विभाग की टीम शास्त्री नगर स्थित इसके मकान से परिजनों को अस्पताल लेकर गई है। वहीं एक टीम इससे पूछताछ कर गत कुछ दिनों में इसके संपर्क में आए लोगों का पता लगाने में जुटी है।

कोरोना संक्रमण का फैलाव शुरू होने के साथ ही देशभर में लागू लॉक डाउन के पश्चात जोधपुर स्थित राजस्थान हाईकोर्ट की मुख्य पीठ में सिर्फ आवश्यक मामलों की ही सुनवाई की जा रही थी। इसके लिए किसी मुव्वकिल व वकील को कोर्ट जाना नहीं पड़ता है। सारी सुनवाई वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये हो रही है। लेकिन हाईकोर्ट के अधिकांश कर्मचारी अपनी ड्यूटी पर जा रहे थे।

No comments