Page Nav

HIDE

Classic Header

Top Ad

Breaking News:

latest

कोरोना महामारी में होमियोपैथिक दवाइयां कर सकती हैं फेफड़ो को मजबूत : डॉ धीरज गोयल

बाप न्यूज ◆ किशन पालीवाल |  प्रदेश में बढते कोरोना संक्रमण के खतरे को लेकर होमियोपैथिक विभाग भी अब सामने आया हैं। होम्योपैथिक विभाग ने इसके ...

बाप न्यूज ◆ किशन पालीवाल |  प्रदेश में बढते कोरोना संक्रमण के खतरे को लेकर होमियोपैथिक विभाग भी अब सामने आया हैं। होम्योपैथिक विभाग ने इसके लिए अलग- अलग दवाईयों को देना शुरू किया हैं। 

होमियोपैथिक चिकित्सक डॉ धीरज गोयल ने बताया कि कोरोना वायरस अपना घातक प्रभाव सीधे फेफड़ो पे डालता हैं। जिससे मरीज को सांस लेने में तकलीफ शुरू हो जाती हैं।  साथ ही साथ शरीर मे ऑक्सीजन की भी कमी होनी शुरू हो जाती हैं।  धीरे धीरे फेफड़े अपना काम करना बंद कर देते है और मरीज की मृत्यु तक हो जाती हैं। होमिपैथिक में बहूत सारी दवाइयां हैं, जो मरीज के फेफड़ों को मजबूत बनाने में, शरीर मे ऑक्सीजन की मात्रा को संतुलित रखने और रोगप्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने में लाभदायक सिद्ध हो सकती हैं। 

उन्होने बताया कि होम्योपेथिक दवा स्नेजिया क्यू, जुस्टिसिया क्यू, ग्लेसरीज़ा क्यू, जिंजिबर  क्यू 15-15-15 बून्द आधे कप गुनगुने पानी मे दिन में 3 बार और एन्टीमोंनिय बून्द जीभ पर लेने से जो बलगम जमा हुआ हैं। वो बाहर निकलेगा और फेफड़ो को मजबूती मिलेगी तथा सांस लेने में आसानी होगी। सुखी खांसी के लिये ड्रोसेरा, स्पोंजिया ,रुमेक्स ,पलसेटिला,स्टिकता पलमोनारिया-30 की पांच – पांच  बूंद गुनगुने पानी के साथ लेने से आराम आता हैं। सांस में अगर तकलीफ हो तो निम्न होमियोपैथिक दवाइया को उपयोग में लिया जाए जैसे एस्पीडोसपेर्मा क्यू, अरेलिया रेसिमोसा क्यू, ब्लाटा ओरेंटालिस क्यू 20-20 बून्द आधे कप गुनगुने पानी मे लेने से आराम आता हैं । साथ ही साथ अगर किसी के शरीर मे ऑक्सीजन की मात्रा कम हो रही हो, पल्स धीमी, शरीर ठंडा, मरीज मुँह खोल के सांस ले रहा हो,तो कार्बो-वेज-30  गोली दिन में 3 बार चुसने से शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा को संतुलित रखने में सहायक सिद्ध हो सकती है।


No comments