Page Nav

HIDE

Classic Header

Top Ad

Breaking News:

latest

ADVT


 

मानसून की पहली बरसात के साथ आया टिडि्डयों का दल, बार- बार आ रही टिड्डियां बढा रही है किसानों की चिंता

खेतोंं में, पेड़ों पर, तारबंदी पर जहां देखो टिडि्डयां ही टिडि्डयां किसान थाली, बर्तन बजाकर, ट्रेक्टर - बाईक दौड़ाकर व स्प्रै कर भगा रहे टि...

खेतोंं में, पेड़ों पर, तारबंदी पर जहां देखो टिडि्डयां ही टिडि्डयां

किसान थाली, बर्तन बजाकर, ट्रेक्टर - बाईक दौड़ाकर व स्प्रै कर भगा रहे टिड्‌डी


जानकारी लेते तहसीलदार 
Bap News: (कैलाश बेनीवाल)
इस बार टिडि्डयां किसानों के लिए परेशानी का सबब बन रही है। पिछले एक माह से अधिक समय के दौरान बार- बार टिडि्डयों के दल किसानों के खेतों में खड़ी फसलों पर हमला कर रहे है। गुरुवार को क्षेत्र में मानसून की पहली बारिस हुई लेकिन आसमान में काले बादलों के साथ मंडराते टिड्‌डी दलों ने किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें खींच दी। शाम के समय खेतों में पड़ाव डाल कर उतरी टिडि्डयों ने किसानों के मन से बरसात की खुशी को काफूर कर दिया। किसान बरसात में भी अपने खेतों में बैठी टिडि्डयों को उड़ाने में लगे रहे। देर रात्रि सूचना पर सरकारी विभागों के कर्मचारी पहुंची और स्प्रै किया। गुरुवार व बुधवार को लोहावट क्षेत्र के दर्जनाें गांवों में टिडि्डयां पहुंची।

जैसे तैसे उड़ाने के प्रयास- किसानों अपने खेतों में आ रही टिडि्डयों को जैसे तैसे उड़ाने में लगे हुए है। वो अपने पूरे परिवार के साथ ताली, थाली, टिन के डिब्बे, बर्तन आदि बजाकर, खेत में बाइक व ट्रेक्टर दौड़ाकर व पेड़ों पर बैठी टिड्‌डी को फव्वारा के पाइप से भगाने का जतन कर रहे है। 
हां देखों वहा टिड्‌डी दल :- 
किसानों के खेतों में जहां देखो वहां टिड्‌डी ही टिड्‌डी दिखाई पड़ रही है। खेतो में, पेड़ों पर, खेत में रोपे गए पत्थरों व खेत की सुरक्षा के लिए खींची गई तारबंदी पर टिडि्डयों ने डेरा डाल रखा है। प्रशासन द्वारा करवाए गए स्प्रै के कारण खेतों में  हर जगह टिडि्डयां बिखरी पड़ी है। माने आसमान से टिडि्डयों की बरसात हुई हो। किसान लगातार हो रहे इन टिड्‌डी के हमलों से परेशान हो चुके है।
खेत में ट्रेक्टर दौड़ा कर टिड्‌डी उड़ाते हुए
इन दिनों किसानों के खेतो में बाजरा, ज्वार, ग्वार, मूंग, मोठ, कपास, मूंगफली की फसलें खड़ी है। अगर ये टिड्‌डी आनी बंद नहीं हुई तो किसानों को इस अकाल ही सामना करना पड़ेगा। सिंचित किसानों के साथ साथ बारानी खेती करने वाले किसानों के लिए ये टिडि्डयां चिंता का विषय है। सूचना पर तहसीलदार प्रतिज्ञा सोनी नोसर व पल्ली गांव पहुंच कर जानकारी ली।


No comments