Page Nav

HIDE

Classic Header

Top Ad

Breaking News:

latest

ADVT

बाप उपखंड क्षेत्र के नेवा, रोहिणा, केलनसर, अजासर में पहुंची टिड्डियां

प्रशासन सर्तक, कानासर में किया टिड्डियों का सफाया, अन्य गांवो में हो रहा स्प्रे Bap New s:  किसानों की दुश्मन टिड्डियां इस साल भी बाप क्षे...

प्रशासन सर्तक, कानासर में किया टिड्डियों का सफाया, अन्य गांवो में हो रहा स्प्रे

Bap News: किसानों की दुश्मन टिड्डियां इस साल भी बाप क्षेत्र में पहुंच चुकी हैं। क्षेत्र के कई गांवों में दो दिन से टिड्डियों का भारी दल ने पड़ाव दे रखा हैं। प्रशासन भी टिड्डियों को लेकर सर्तक है। कानासर के नेवा में बीती रात को ही स्प्रे कर काफी संख्या में टिड्डियों का सफाया गया। केवीएसएस चैयरमेन हजारीराम गोदारा ने बताया कि कानासर क्षेत्र के नेवा में रविवार शाम को करीब एक किमी एरिया में भारी संख्या में टिड्डियां पहुंच गई।
टिड्डियों ने वनस्पतियों सहित पेड़ पौधों को चट कर दिया। टिड्डियों की भारी संख्या का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि जंहा वह बैठी थी वंहा हरे रंग की वनस्पति भूरे रंग की दिखाई दे रही थी। विश्नोई ने टिड्डियों के आने की सूचना बाप उपखंड अधिकारी महावीरसिंह सहित टिड्डी कंट्रोल रूम फलोदी प्रभारी पवन कुमार को दी। सूचना मिलते ही शाम को ही तहसीलदार हुकमीचंद, विकास अधिकारी धनदान देथा सहित आरआई व पटवारी मौके पर पहुंच गए। ग्रामीणों के सहयेाग से टिड्डी नियंत्रण दल ने स्प्रे कर टिड्डियों का सफाया किया।
ग्रामीणों की माने तो टिड्डियां पूर्ण रूप से नियंत्रण में नही आई थी। इस कार्य में ग्राम विकास अधिकारी अवस्थी, ठेकेदार महीपाल गोदारा, रामरखराम, प्रकाश छंगाणी, रामचंद्र ईशरगा आदि ने सहयोग किया। केवीएसएस अध्यक्ष सहित ग्रामीणों ने उपखंड अधिकारी के मार्फत राज्य व केंद्र सरकार टिड्डियों का अंतरराष्ट्रीय सीमा पर ही छिड़काव नियंत्रण करने का प्रयास करने की मांग की हैं।

घंटियाली उप तहसील कार्यालय में बनाया कंट्रोल रूप

सोमवार को बाप तहसील क्षेत्र की उप तहसील क्षेत्र घंटियाली केक रोहिणा, केलनसर, अजासर व मानेवड़ा में भी टिड्डियों का दल पहुंच गया था। सूचना मिलते ही नायब तहसीलदार रमजान खां ने उनके नियंत्रण के लिए दलो का गठन करने के साथ आमजन के सहयेाग से स्प्रे के लिए 10 ट्रेक्टर भी तैयार कर लिए। नायब तहसीलदार रमजान खां ने बताया कि
आमजन की सहुलियत के लिए घंटियाली उप तहसील मुख्यालय पर भी टिड्डी कंट्रोल रूम बनाया गया हैं। क्षेत्र में टिड्डी प्रभावित गांवो में दिन में ग्रामीणों ने टायर जलाने के साथ थाली व ढोल बजाकर उन्हे उड़ा रहे हैं। शाम को छिड़काव कर टिड्डियों का सफाया किया जाएगा।

No comments