Page Nav

HIDE

Classic Header

Top Ad

Breaking News:

latest

ADVT

जमीन व रास्ते के विवाद को लेकर कलयुगी बेटे ने किया मां को जहर लेने के लिए मजबूर

23 जुलाई को वृद्धा का शव उनके ही पड़ौसी के घर के आगे मिला था, पुलिस ने किया आरोपी बेटे को गिरफ्तार Bap News :  जमीन व रास्ते के विवाद को स...

23 जुलाई को वृद्धा का शव उनके ही पड़ौसी के घर के आगे मिला था, पुलिस ने किया आरोपी बेटे को गिरफ्तार

Bap News : जमीन व रास्ते के विवाद को सुलझता न देख एक कलयुगी बेटे ने जिनके साथ जमीन विवाद चल रहा था, उन्हे जेल भेजने के लिए अपनी ही मां को जहर लेने के लिए मजबूर कर दिया। बेटे के आगे मजबूर होकर वृद्ध मां ने जहर खा लिया। बाप पुलिस ने मां को जहर लेने के लिए मजबूर करने के आरोपी बेटे को गिरफ्तार कर लिया हैं। आरोपी अपनी प्रेमिका की हत्या के आरोप में जेल में रहने के बाद जमानत पर बाहर अया हुआ था। 

थानाधिकारी हरिसिंह राजपुरोहित ने बताया कि कानासर के सालुओं की ढाणी में 23 जुलाई को एक वृूद्धा का शव उनके पड़ौसी के घर के बाथरूम के आगे मिला था। मृतक वृद्धा के पुत्र ने पड़ौसी भैराराम वगैरा पर मां का अपहरण के बाद मारपीट कर उसकी मां को जहर देकर मारने का आरोप लगाते हुए बाप थाने में मामला दर्ज करवाया था। पुलिस ने मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव पुत्र को सौंपा था। 

पुलिस तफ्तीश में वृद्धा का बेटा, पूर्व आपराधिक रिकॉर्ड व वादरात के तरिके से शक के दायरे में आ गया। आस पड़ौस व ग्रामीणों से पूछताछ व गोपनीय जानकारी भी मृतक वृद्धा के बेटे की तरफ ले जा रही थी। ग्रामीण पुलिस अधीक्षक राहुल बाहरठ के निर्देश पर बाप पुलिस ने वृद्धा के बेटे भागीरथ को थाने में तलब किया। पुलिस ने उससे गहनता व मनौवैज्ञानिक तरिको से पूछताछ की तो उसने वारदात स्वीकार कर ली। भागीरथ ने पुलिस को बताया कि उसने ही मां को जहर लेने के लिए मजबूर किया था। उसकी मां भैराराम के घर के आगे जाकर मरेगी तो वह जेल चला जाएगा।

एक दिन पहले मां को साथ लेकर निकलवाए पांच हजार, मारपीट का दर्ज करवाया था मामला - 

पुलिस पूछताछ में सामने आया कि भागीरथ के पिता के नाम की जमीन कई वर्षो पहले भैराराम के परिवार के नाम चढ़ गई थी। भैराराम वृद्धा का पड़ौसी होने के पारिवारिक रिश्ते में देवर भी था। जमीन व रास्ता विवाद को लेकर पंच –पंचायती भी हुई थी। उसमें भैराराम ने 5 बीघा जमीन देनो तय भी किया था, लेकिन रजिस्ट्री नहीं करवाई। जिस पर मृतका के बेटे ने सोचा की जमीन तो वह देगा नहीं। मां वृद्ध होने के साथ बीमार भी है। ऐसे में वह अगर भैराराम के घर के आगे जकर खाकर मर जाए तो भैराराम जेल चला जाएगा।   
इसी योजना को लेकर वह 22 जुलाई को दिन में अपनी मां को लेकर कानासर आया। कानासर में ई मित्र पर मां से अंगूठा लगवाकर उसके खाते में से वृद्धास्था के पांच हजार रूपये निकलवाए। इसके बाद वह बाप आ गया। बाप में उसने उपखंड अधिकारी व बाप थाने में भैराराम वगैरा के खिलाफ रास्ता नहीं देने व मारपीट करने का मामला दर्ज करवाया। बाप से जाते समय वह कीटनाशक लेकर घर गया। रात में उसने मां का विडिया बनाया, जिसमें मां कह रही है कि उसके व बेटे के साथ मारपीट की गई हैं। इसके बाद उसने मां को कहा कि दोनो जहर खा लेते है, जिससे भैराराम जेल चला जाएगा। लेकिन मां ने कहा कि तु जहर क्यों खा रहा हैं, में ही खा लेती हुं। इसके बाद उसने दबाव बनाया कि मां तुम जहर खाती हो या मैं खाता हुं। बेटे के मजबूर करने पर वृद्धा ने कीटनाशक पी लिया। इसके बाद मां के शव को भैराराम के घर के आगे डाल वह खेत में साेने चला गया। 

प्रेमिका को भी जहर देकर मारा - 

थानाधिकारी राजपुरोहित ने बताया कि आरोपी भागीरथ शादी की नियत से अपनी प्रेमिका को भगाकर लाया था। उसे भी उसने जहर देकर मारने के बाद नहर में फेंक दिया था। एक साल जेल में रहने के बाद वह जमानत पर बाहर आया हुआ था।

No comments